[the_ad_placement id="mobile-above-title"]
Home Blog Page 4

छेड़छाड़ पर योगी आदित्यनाथ को किया ट्वीट, पुलिस अधिकारियों के यूं छूटने लगे पसीने !

सीएम की कुर्सी संभालते ही आदित्यनाथ योगी पूरे एक्शन में हैं और इसका असर भी दिख रहा है. कानपुर में पड़ोसी की गुंडागर्दी का शिकार हुए एक परिवार का कहना है कि मुख्यमंत्री को ट्वीट करने के बाद पुलिस हरकत में आई ! दरअसल, कल्याणपुर में हार्डवेयर कारोबारी के घर में घुसकर पत्नी, उनकी दो बेटियों से छेड़छाड़, मारपीट की घटना को हल्के में निपटाने में जुटी पुलिस पीड़ित पक्ष के द्वारा किये गये सीएम को ट्वीट के बाद हरकत में आई ।

ट्वीट के कुछ देर बाद ही सीएम योगी आदित्यनाथ के दफ्तर से आदेश आने के बाद कार्यवाहक SSP कई पुलिस अफसरों केे साथ खुद पीड़ित के घर पहुंचे और मेडिकल रिपोर्ट के आधार पर FIR दर्ज करने के निर्देश दिए। यही नहीं आनन-फानन में आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी भी शुरू हो गई।

अगले पेज पर पढ़ें इसके बाद क्या हुआ, जब एक बेटी ने किया योगी जी को ट्वीट…!

संसंद को हमेशा मंदिर की तरह पूजने वाला आज कैसे बिच सदन में उठ कर चला गया ,, जानिए आखिर क्या हुआ जो मोदी का परा चढ़ गया सातवे आसमान पर

लोकसभा में प्रश्‍नकाल के बाद हुए शोर-शराबे से स्‍पीकर सुमित्रा महाजन इस कदर खफा हुई कि उन्‍हें कहना पड़ा कि यह क्‍या स्‍कूल है। इस शोर से खफा होकर पीएम भी सदन से चले गए। लोकसभा की कार्यवाही के दौरान आज उस वक्त अजीब स्थिति देखने को मिली,

जब लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन सांसदों के व्यवहार से खफा हो गई। अमूमन शांत रहने वाली सुमित्रा महाजन के खफा होने की वजह बना सांसदों का शोरगुल वाला रवैया। सदन की कार्यवाही के दौरान सुमित्रा महाजन की ओर से कई बार सांसदों को शांत रहने की हिदायत दी गई।

आगे जानिए ऐसा क्या हुआ सदन में जो मोदी बहार चले गये

CM योगी ने सब को चोंकते हुए मारे छापे ,,हर कोई हैरान CM का ये रूप देख कर

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने आज पुलिस अधिकारियों से बूचड़खाने बंद करने के लिए एक्शन प्लान बनाने के लिए कहा है। सूत्रों के अनुसार, गो तस्करी पर भी पूरी तरह से बैन लगाने के लिए कहा गया है। वहीं, लोकभवन व सचिवालय में गुटखा-पान पर प्रतिबंध लगाने के आदेश दिए गए हैं। लोकभवन व सचिवालय में गुटखा और पान पर तत्काल प्रभाव से प्रतिबंध लागू कर दिया गया है।

यदि कोई खाता पाया गया तो उससे जुर्माना भी वसूला जाएगा। मुख्यमंत्री ने पुलिस अधिकारियों को अवैध रूप से शव दफन करने के मुद्दे पर भी प्लान बनाने के लिए कहा है। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी ने आज पहली बार एनेक्सी का दौरा किया। पंचम तल पर किया निरीक्षण। मुख्य सचिव, प्रमुख सचिव गृह और डीजीपी भी रहे मौजूद ।

अगले पेज पर जानिए क्या कहा योगी ने अपने इस दौरे पर और क्या सख्त आदेश दिए

आखिर क्यों उत्तराखंड के मुख्यमंत्री सीएम आवास में जाने से कतरा रहे है ?

उत्तराखंड के नए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत मुख्यमंत्री आवास में प्रवेश लेने में बहुत ही सावधानी बरत रहे हैँ। माना जा रहा है कि श्री रावत नवरात्र के दौरान मुख्यमंत्री आवास में शिफ्ट कर सकते हैं, लेकिन उसके पहले दिल्ली के कई वास्तुशास्त्री आवास का निरीक्षण कर के उसमें बदलाव करेंगे।

दरअसल, ये मात्र संयोग है या फिर समय का फेर, जो भी मुख्यमंत्री न्यू कैंट रोड स्थित नए मुख्यमंत्री आवास में रहने आया, वह ज्यादा दिन कुर्सी पर टिक नही पाया।। इसी मिथक के चलते पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत इस आवास में रहने नहीं आये। नए मुख्यमंत्री इसी मिथक को वास्तुशास्त्र के जरिये तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं।

दरअसल, राज्य गठन से पहले यहाँ राज्य अतिथि गृह हुआ करता था और बाद में इसे मुख्यमंत्री आवास में तब्दील कर दिया गया। केवल उत्तराखंड की पहली निर्वाचित सरकार में मुख्यमंत्री बने नारायण दत्त तिवारी ही यहाँ पुरे पांच साल रह सके हैं। इसके बाद पुराने भवन को गिराकर नया भवन बनाया गया जो 2007 में बी.सी. खंडूरी के समय में पूरा हुआ। उसके बाद मुख्यमंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने इसे नए सिरे से संवारा और इसे अपना आवास बनाया लेकिन वो भी बहुत समय तक कुर्सी का आनंद नही उठा पाये। इसके बाद जो भी आया वो सबको सत्ता से हाथ धोना पड़ा। हालाँकि पूर्व मुख्यमंत्री बी. सी. खंडूरी इसके अपवाद भी हैं। उन्होंने अपने दूसरे कार्यकाल इस आवास से दूरी बनाई और इसे केवल कार्यालय के रूप में इस्तेमाल किया फिर भी 2012 के चुनाव में भाजपा को सत्ता गंवानी पड़ी।

योगी आदित्यनाथ के जीवन की वो बातें जिन्हें वो सबसे छुपाकर रखते है…

महंत आदित्यनाथ से अब मुख्यमंत्री आदित्यनाथ बन चुके योगी आदित्यनाथ के जीवन के कई ऐसे पहलू है जिन्हें वे पब्लिक में साझा नही करते उन्हें छुपा के रखते है. गोरखपुर से सांसद और गोरक्षनाथ पीठ के वर्तमान महंत योगी आदित्यनाथ का अजय सिंह से योगी और अब मुख्यमंत्री बनने का सफर बड़ा ही रोचक है.

 

 

उनके जीवन से जुड़े कुछ किस्से तो बड़े ही रोचक है. बहुत सी बातों को तो योगी आदित्यनाथ ने लोगों से छुपाकर रखा था. वह इसलिए नहीं कि उनको किसी बात का डर था बल्कि इसलिए कि वो इनको लेकर प्रचार नहीं पाना चाहते थे.

 

महंत योगी आदित्यनाथ का जन्म 5 जून 1972 को उत्तराखंड के पौड़ी जनपद के यमकेश्वर ब्लॉक स्थित पंचूर गांव में आनंद सिंह बिष्ट के घर में हुआ है. बचपन से मेधावी छात्र रहे योगी ने ऋषिकेश के इन्द्रानगर में दो साल रहकर श्री भरत मंदिर इंटर कॉलेज से इंटर की पढ़ाई की.

अगली स्लाइड में जानिये योगी आदित्यनाथ ने अपने भाइयों को कौन सा बिजनेस  कराया और उनके अपने गुरु से क्या सम्बन्ध थे 

आखिर अमित शाह ने योगी को रास्ते से ही क्यों बुला लिया ?

उत्तर प्रदेश के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सांसद के रूप में मंगलवार को लोकसभा में अपनी आखिरी स्पीच दी। हालांकि इसके बाद उनके साथ एक अजीब वाक्या हुआ। जब वह दिल्ली से लखनऊ के लिए रवाना हुए तो रास्ते में ही भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का फोन आ गया और उन्हें वापस आने को कहा।  मुख्यमंत्री का काफिला हवाईअड्डे की तरफ बढ़ रहा था कि अचानक उसने यू-टर्न ले लिया।

न्यूज एजेंसी PTI के अनुसार, आदित्यनाथ को अमित शाह ने अचानक हुई एक बैठक के लिए बुलाया। आदित्यनाथ करीब एक घंटे तक शाह के आवास पर रहे। आपको बता दें कि यह बैठक ‘पहले से निर्धारित’ नहीं थी। बाद में वह बतौर लोकसभा सदस्य आवंटित रकाब गंज रोड स्थित अपने घर पहुंचेl

अगले पेज पर जानिये ऐसा क्या हुआ था इस बैठक में कि योगी जी को बीच यात्रा से वापस बुलाया गया 

योगी लेने जा रहे है अब तक का सबसे कठोर कदम ..सबकी नीद हराम

गुजरात और बिहार के बाद अब भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में शराब पर पाबंदी लग सकती हैl यूपी के नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शराब पर सख्ती बरतना शुरू कर दिया हैl  इसी कड़ी में डीआईजी रेंज ने वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ शराब की दुकानों में सघन चेकिंग अभियान चलाया l

इस दौरान सार्वजनिक स्थानों पर शराब पीने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई की गई. इससे पहले योगी संसद में बयान के दौरान यूपी में शराब पर पाबंदी की दिशा में कदम उठाने के साफ संकेत दे चुके हैं l बुधवार को सूबे के मुख्यमंत्री योगी ने शराब को लेकर आबकारी सचिव के साथ बैठक भी की.

आगे पढ़े पूरी खबर

भगवान राम का जन्मस्थान पूछने पर रोहित सरदाना का करार जबाब मुफ़्ती रह गये सक्क

विडियो:भगवान राम का जन्मस्थान पूछने पर रोहित सरदाना ने मुफ़्ती को ठोका : अल्लाह का जन्म स्थान पता है ? भगवान राम का जन्मस्थान पूछने पर रोहित सरदाना ने मुफ़्ती को ठोका : अल्लाह का जन्म स्थान पता है ? आज सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि राम मंदिर के मुद्दे को आपसी बातचीत के ज़रिए सुलझाया जाना चाहिए उसके बाद देश में एक नयी बहस शुरू हो गयी है ,

कोर्ट के बयान के बाद मुस्लिम कट्टरपंथियों में ख़ासी नाराज़गी है कोर्ट पर भी ऊँगली उठा दिए गए हैं , यहाँ तक कि भगवान राम पर भी ऊँगली उठा दी गयी है और भगवान राम के जन्म स्थान के सबूत मुस्लिम मुफ़्तियों और कट्टर पंथियों द्वारा माँगे जाने लगे हैं ।ख़ैर इस मुद्दे पर जी न्यूज़ के कार्यक्रम ताल ठोक के में आज चर्चा हुए तो अंतिम पाँच मिनट में ये चर्चा बेहद भड़क गयी , जब मुस्लिम मुफ़्ती ने भगवान राम के पैदा होने के सबूत माँगे तो रोहित सरदाना ने कहा क्या आप अल्लाह के पैदा होने का सबूत दे सकते हैं ?

Watch Video

भगवान् शिव से जुदा एक अनोखा रहस्य, जो आपने आज तक न सुना होगा न समझा !

आपने अक्सर मंदिरों में भोलेनाथ की प्रतिमा के सामने नंदी की प्रतिमा देखी होगी?कहा जाता है कि इस दुनिया में जहाँ पर भी भोलेनाथ की प्रतिमा राजमान है उसके ठीक सामने नंदी की मूर्ति भी विराजमान होते है।

जिस प्रकार भगवान शिव की पूजा और दर्शन का महत्व है उसी प्रकार नंदी का दर्शन भी किया जाता है। हालाँकि हम सभी भगवान शिव के साथ नंदी की पूजा करने का महत्व है।लेकिन क्या आपने कभी सोचा है कि भोलेनाथ की मूर्ति के ठीक सामने हमेशा नंदी की मूर्ति क्यों विराजमान होती है?

अधिक जानकारी के लिए आगे पढ़े

योगीराज ने बीच सड़क पर ली पुलिस वाले की जोरदार CLASS , किया ससपेंड

यूपी में सता का परिवर्तन हो चुका है जिसके परिणाम विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के साथ ही दिखाई देने शुरू हो गए थे. उत्तर प्रदेश दशकों तक कुशासन के चलते गुंडागर्दी चोरी सीना जोरी का दर्द झेलता रहा है. लेकिन जैसे ही वहां पर बीजेपी का सूर्योदय हुआ है तो लोगों को अच्छे दिनों की उम्मीद जगी है. योगी जी के मुख्यमंत्री पद की शपथ ग्रहण करते ही अधिकारियों व कर्मचारियों के कान खड़े हो गए हैं । हर हरामी चापलूस अफसर अपने आकाओं सपा के शासनकाल को याद कर अपने दर्द को सीने में दबा कर जीने का तरीका सीख रहे हैं ।

अभी हमें योगी जी के तल्ख़ तेवर का विडियो मिला जो सोशल मीडिया पर बेहद वायरल हो रहा है, इस विडियो क्लिप में देखा जा रहा है कि योगी जी एक पुलिस कर्मचारी को खुले आम कह रहे हैं की अगर पार्टी बनना है ( यानी राजनीति करनी है ) तो पहले वर्दी उतारिये और खुले मैदान में आओ हम निपटने के लिए तैयार हैं ।

आगे देखें विडियो

Recommended Stories